महात्मा की ह्त्या और हमारे बच्चे:नासिरुदीन हैदर खान

GUEST POST by Nasiruddin Haider Khan

किसी की हत्या की गई हो तो उसकी वजह भी होगी. महात्मा गांधी की भी हत्या की गई थी. जाहिर है, इसकी भी कोई वजह होगी. वैसे क्‍या वजह है? हम कह सकते हैं, 68 साल बाद क्या यह भी कोई सवाल है? ऐसा सवाल जिसका जवाब तलाशने की जरूरत हो?

पिछले दिनों उत्‍तरी बिहार के एक स्‍कूल में कुछ साथियों के साथ जाना हुआ. हमें नौवीं क्‍लास के छात्रों से रू-ब-रू होना था. यह उस शहर का नामी निजी स्‍कूल है. स्‍टूडेंट भी मेधावी हैं. हम इनसे बातचीत का मौजू तलाश रहे थे. जनवरी का महीना है. हमें सूझा, क्‍यों न महात्मा गांधी की हत्या पर बात की जाए. देखा जाए बच्चे  क्या सोचते या जानते हैं? तो हमने तय किया कि इसी पर बात होगी.

क्‍लास में करीब 60 लड़के-लड़कियाँ रही होंगी. सबकी उम्र 15 के आसपास होगी. हमारे सामने सवाल था, कहाँ से और कैसे शुरू किया जाए. हमने बोर्ड पर लिखा ‘30 जनवरी.’ बातचीत शुरू हुई. क्या 30 जनवरी कुछ खास तारीख है? सभी छात्रों से अलग-अलग जवाब मिले- इस दिन गांधी जी की हत्या हुई थी…शहीद दिवस है… गांधी जी राष्ट्रपिता हैं आदि.

हमार अगला सवाल था- अगर हत्या हुई थी तो क्या आप बता सकते हैं, गांधी जी की हत्या किसने की थी? नाथूराम गोडसे- यह जवाब ज़्यादातर बच्चे जानते थे. इसके बाद सवाल किया गया- नाथूराम गोडसे ने गांधी जी को क्यों मारा? इसके जवाब काफी अलग-अलग थे. कुछ व्यक्तिगत जवाब थे तो कुछ सामूहिक. इन जवाबों से यह  झलक भी मिलती है कि गोडसे को बच्चे क्या समझते हैं?

आगे के लिए यह लिंक देखिए:

http://hindi.catchnews.com/india/why-did-nathuram-godse-kileed-mahatma-gandhi-1454050822.html

 

 

2 thoughts on “महात्मा की ह्त्या और हमारे बच्चे:नासिरुदीन हैदर खान

  1. K SHESHU BABU

    Godse sensed Gandhi tilting against brahminism specially after supporting paying reparations to Pakistan.

  2. Jasbir Chawla

    हाथों का रिमोट

    एक हाथ रोज़ गाँधी को जिंदा करता है
    झट से दूसरा हाथ उनकी लँगोटी उतारता है
    धड़ से उगा तीसरा हाथ
    गोली मार देता है

    एक छुपा दिमाग है
    हाथों का रिमोट लिये अट्टहास करता है

    🌿 जसबीर चावला

We look forward to your comments. Comments are subject to moderation as per our comments policy. They may take some time to appear.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s