Tag Archives: Indian cities

दिल्ली बनाम बम्बई

भारत के दो महानगरों राष्ट्रिय राजधानी दिल्ली और बम्बई को यूनेस्को द्वारा विश्व धरोहर की सूची में नामांकित करने की तैयारियां चल रही हैं, कुछ मित्रों ने दिल्ली या बम्बई की बहस शुरू कर दी है जो वास्तव में पूर्णत: अनर्गल बात है.

में दिल्ली बनाम बम्बई के पचड़े में पड़ने के बजाये ये सवाल पूछना चाहता हूँ के ऐसा क्यों है के 65,436,552 की कुल आबादी और 6,74,800 वर्ग किलोमीटर के कुल क्षेत्रफल वाले फ्रांस में 35 स्थान, नगर, इमारतें प्राकृतिक स्थल आदि ऐसे हैं जो विश्व धरोहर की सूची में शामिल किये गए हैं मगर इस सूची में भारत का नाम केवल 29 बार ही आता है.

जो सवाल पूछना ज़रूरी है वो यह के सिर्फ दिल्ली या/और बम्बई ही क्यों? जोधपुर, जयपुर, अजमेर, इंदौर, उज्जैन, भोपाल, बनारस, इलाहबाद, लखनऊ, पटना, वैशाली, हैदराबाद, विदिशा कालिंजर, मदुरै, कांचीपुरम कलकत्ता और मद्रास क्यों नहीं ?, आप ने नोट किया होगा के बम्बई कलकत्ता और मद्रास के नए नाम में इस्तेमाल नहीं कर रहा हूँ और दिल्ली को भी देहली नहीं लिखा है. यह जान बूझ कर किया जा रहा है दरअसल विरासत कहीं अतीत में जड़ हो गयी कोई चीज़ नहीं है और इसलिए नाम बदलने की समस्त परियोजनाएं विरासत से छेड़ छाड करने की निन्दनीय प्रवर्ति का ही हिस्सा हैं. Continue reading दिल्ली बनाम बम्बई

Gurgaon Glossaries: Prasad Shetty, Rupali Gupte and Prasad Khandolkar

This guest post by PRASAD SHETTY, RUPALI GUPTE and PRASAD KHANDOLKAR is research work in progress for Sarai Reader 09 @ Devi Arts Foundation, Gurgaon

This slideshow requires JavaScript.

When a new city settles, new systems are made, new vocabularies get invented, new relations are formed, new methods are devised, new networks are forged, new enterprises are produced, and new life is led to settle the ruffles. This work is a compilation of such systems, vocabularies, relations, methods, enterprises and networks that get formed to shape and settle the city.

CLU:

‘Change of Land Use’ is a town planning provision that is generally a part of town planning acts of various states across India. This provision allows land use changes in the statutory plan. This provision is made to allow governments to respond to unforeseen requirements of the future, where some lands need to be used differently from the planned use. Continue reading Gurgaon Glossaries: Prasad Shetty, Rupali Gupte and Prasad Khandolkar