Tag Archives: Mahmoud Barghouti

सलाह: मुरीद बरघूती/अनुवाद: आयेशा किदवाई

You can read the English translation by Radwa Ashour, of Palestinian poet Mourid Barghouti’s poem Counsel, below this translation into Hindustani by AYESHA KIDWAI

“La reproduction interdite” by Rene Magritte 1937.

सलाह 

हैरत ज़दा, असमंजस में,

उस ने हमें बुलवाया

और हम हाज़िर हुए.

उसकी संगेमरमर की बालकनी के तले खड़े हुए:

दुखी लग रहा था वो.

हाथ लरज़ रहे थे

जब से एक ज्योतिष ने उस से ये कह दिया था

किसी की सलाह नहीं लोगे, तो मौत पक्की है“. Continue reading सलाह: मुरीद बरघूती/अनुवाद: आयेशा किदवाई