Tag Archives: Internationalism

भगत सिंह और आज का नौजवान: अपूर्वानंद

कभी कभी हर समाज में ऐसे क्षण  आते हैं जब उसे अपने अस्तित्व के तर्क की पड़ताल करनी पड़ती है. उस समय वह अपने किन बौद्धिक संसाधनों का प्रयोग करता है और किन स्रोतों से तर्क की सामग्री जुटाता है, यह  काफी महत्वपूर्ण है.क्या एक समाज के रूप में भारत के लिए अभी ऐसा ही कोई क्षण उपस्थित हो गया है? एक ऐसा तबका है जो भारत नामक किसी एक सामाजिक इकाई के बौद्धिक औचित्य को ही नहीं मानता. उसकी बात जाने दें.भारत अभी भी अनेकानेक लोगों के लिए एक यथार्थ है जिसकी अपनी भावनात्मक और बौद्धिक वैधता है.वे उसे बार-बार समझने और अपने लिए आयत्त करने की कोशिश करते हैं.इस क्रम में वे किनकी ओर  देखते हैं? Continue reading भगत सिंह और आज का नौजवान: अपूर्वानंद

From Delhi to Djakarta, Protests Against Sexual Violence Across Borders: Bonojit Husain

Guest post by BONOJIT HUSAIN

20130115-211244.jpg

(Photographs courtesy: Pipit Apriani who is a Jakarta based activist and a blogger)

Protests against sexual violence are spreading across Asia. Last week demonstrations against rape and sexual violence were held in Nepal, Bangladesh, Pakistan and Sri Lanka.

Inspired by the protests held in Delhi for last three weeks, hundreds of university students and activists march on the streets of Jakarta few hundred meters away from the Presidential Palace for a world free of sexual violence. The call for the protest march was given by a coalition of University Students’ Unions and civil society organizations in response to the death of RI, a 11-year-old girl, who died last week after suffering severe vaginal and rectal injuries due to repeated sexual assaults. Continue reading From Delhi to Djakarta, Protests Against Sexual Violence Across Borders: Bonojit Husain